डीएवी शताब्दी कॉलेज फरीदाबाद में विज्ञान विभाग द्वारा वैज्ञानिक स्वभाव क्यों और कैसे विषय पर राष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन

Share this post


एन एच ३ स्थित डीएवी शताब्दी कॉलेज फरीदाबाद में विज्ञान विभाग द्वारा वैज्ञानिक स्वभाव क्यों और कैसे विषय पर राष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन किया गया | इस वेबिनार के मुख्य वक्ता प्रोफ़ेसर दीपक कुमार पूर्व प्रोफेसर विज्ञान और विज्ञान का इतिहास विभाग जाकिर हुसैन सेंटर फॉर एजुकेशनल स्टडीज जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय नई दिल्ली रहे |

प्रोफेसर दीपक कुमार ने विभिन्न राज्यों से ऑनलाइन जुड़े लगभग 200 से अधिक शिक्षकों, छात्रों, शोधकर्ताओं को वैज्ञानिक स्वभाव को कैसे विकसित कर सकते हैं के बारे में जागरूक किया | उन्होंने कहा कि भावी पीढ़ियों में वैज्ञानिक स्वभाव को बनाए रखने के लिए आज इस विषय पर चिंतन करने की आवश्यकता है| आज समाज में अंधविश्वासों को छोड़े और तर्क व् विज्ञान को महत्व देने की जरूरत है | मनुष्य अपने कार्यों के लिए स्वयं जिम्मेदार है अतः आज जरूरत है कि समाज में लोग अपने पुरानी सोच को छोड़कर वैज्ञानिक सोच को अपनाएं और फिर से देश को विश्व पटल पर एक अलग पहचान हासिल करने में सहायक हो |

कॉलेज की कार्यवाहक प्राचार्या डॉ सविता भगत ने मुख्य वक्ता प्रोफ़ेसर दीपक कुमार व सभी गणमान्य व्यक्तियों का हार्दिक आभार व्यक्त करते हुए कहा कि आज के समय में वेबिनार का विषय बहुत ही प्रासंगिक है | उन्होंने कहा कि आज शिक्षक वर्ग व छात्रों को तर्कसंगत सोच को विकसित करने की आवश्यकता है | कार्यक्रम के संयोजक सतीश बंसल व सह संयोजिका डॉ अंकुर अग्रवाल विभागाध्यक्ष विज्ञान विभाग रहे | वेबीनार के कार्यकारी सचिव सरोज कुमार व दिनेश चौधरी प्रमोद कुमार व् डॉ प्रिया का सफल आयोजन में अहम भूमिका रही | अंत में सुजाता ने सभी गणमान्य व्यक्तियों, मुख्य वक्ता व् अन्य सभी को सफल कार्यक्रम बनाने में सहयोग देने के लिए धन्यवाद दिया |


Share this post